Never miss a great news story!
Get instant notifications from Economic Times
AllowNot now


You can switch off notifications anytime using browser settings.

ऋण

24 November, 2020, 11:16 PM IST
रिटायरमेंट के बाद होम लोन चाहिए? ये 6 टिप्‍स करेंगी मदद

रिटायर हो चुके लोगों को बैंक अमूमन लोन देने में हिचकते हैं. इसकी कई वजह होती हैं. इनमें जिंदगी, कमाई और कैश फ्लो को लेकर अनिश्चितता शामिल हैं. यह अलग बात है कि थोड़ी समझदारी से रिटायरमेंट के बाद भी होम लोन लिया जा सकता है. यहां जानते हैं कैसे?

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा, क्रेडिट कार्ड पर ब्‍याज-पर-ब्‍याज माफी का फायदा क्‍यों मिलना चाहिए?

मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम आर शाह की पीठ कर रही है.

क्या पर्सनल लोन आर्थिक संकट से उबरने में आपकी मदद कर सकता है?

संकट के चलते कुछ बैंकों ने कर्ज देने के लिए क्रेडिट स्‍कोर को बढ़ाया है. साथ ही इनकम की जरूरतों में बढ़ोतरी की है. इससे कम रेट पर लोन पाने के लिए ग्राहकों की पात्रता मुश्किल हो गई है.

लोन मोरेटोरियम मामला : सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 19 नवंबर तक टाली

मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम आर शाह की पीठ कर रही है.

लोन मोरेटोरियम केस : सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 18 नवंबर तक टाली

भारतीय रिजर्व बैंक और वित्त मंत्रालय पहले ही सुप्रीम कोर्ट में अलग-अलग हलफनामा देकर कह चुके हैं कि बैंक, वित्तीय संस्थान और गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थान (एनबीएफसी) पांच नवंबर तक पात्र कर्जदारों के खातों में चक्रवृद्धि और साधारण ब्याज के अंतर के बराबर राशि डालेंगे.

होम लोन की मांग बढ़ने से बैंकों में छिड़ी ब्‍याज दर घटाने की जंग

बैंक धड़ाधड़ ब्‍याज दरों में बदलाव कर रहे हैं. यह संकेत देता है कि इनके बीच होम लोन बुक को बढ़ाने के लिए ब्‍याज दर घटाने की जंग शुरू हो चुकी है. यह लोन की सबसे सुरक्षित कैटेगरी है.

कोटक महिंद्रा बैंक ने होम लोन की ब्‍याज दर घटाई, नया रेट 7% से भी कम

कोटक सैलरीड और सेल्‍फ-इम्‍प्‍लॉयड कस्‍टमर सेगमेंट में सबसे अच्छे ग्राहकों को इन दरों की पेशकश कर रहा है. ये दरें बैलेंस ट्रांसफर पर भी लागू हैं.

एमएसएमई के लिए इमरजेंसी लोन गारंटी सुविधा योजना की अवधि एक माह बढ़ी

कोरोना वायरस महामारी से बुरी तरह प्रभावित अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के प्रयासों के तहत वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मई में इस योजना की घोषणा की थी.

लोन मोरेटोरियम केस : सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 5 नवंबर तक टाली

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर रिजर्व बैंक ने एक मार्च से 31 अगस्त तक लोन मोरेटोरियम की सुविधा दी थी. इस सुविधा का लाभ लेने वाले ग्राहकों से बैंकों की ओर से ईएमआई के ब्याज पर ब्याज वसूलने को लेकर कई याचिकाएं दायर की गई हैं.

मह‍िलाओं को सस्‍ता होम लोन दे रहा है यह बैंक, जान‍िए खास बातें

बैंक के मुताबिक, महिला आवेदकों को इस तरह के कर्ज पर ब्याज दर में 0.05 फीसदी की अतिरिक्त छूट मिलेगी. इस तरह महिला आवेदकों को ब्याज कुल 0.15 फीसदी सस्ता पड़ेगा.

बैंक ऑफ बड़ौदा ने कर्ज सस्ता किया, लेकिन इन सेवाओं के लिए चुकाना होगा चार्ज

सार्वजनिक क्षेत्र के इस तीसरे सबसे बड़े बैंक ने रेपो दर से जुड़ी ऋण ब्याज दर (बीआरएलएलआर) को सात प्रतिशत से घटाकर 6.85 प्रतिशत कर दिया.

ब्‍याज-पर-ब्‍याज माफी स्‍कीम के लिए अप्‍लाई करने की जरूरत नहीं : वित्‍त मंत्रालय

यह फायदा सभी पात्र ग्राहकों के लिए उपलब्‍ध है. इनमें वे भी शामिल हैं जिन्‍होंने मोरेटोरियम का विकल्‍प नहीं चुना था. दो करोड़ रुपये तक के कर्ज पर यह राहत मिलनी है.

कम क्रेडिट स्‍कोर के बावजूद लोन पा सकते हैं आप, जानिए क्या है तरीका

लोन की मंजूरी में क्रेडिट स्‍कोर एक जरूरी पैमाना होता है. ग्राहकों की साख का पता लगाने के लिए बैंक इसका इस्‍तेमाल करते हैं. 750 या इससे ज्‍यादा का स्‍कोर अच्‍छा माना जाता है. ऐसा होने पर लोन आसानी से अप्रूव हो जाता है. वैसे, कई लोगों के लिए अच्‍छा क्रेडिट स्‍कोर मेनटेन कर पाना आसान नहीं होता है. अनुशासन और रुपये-पैसे के प्रबंधन के कौशल के साथ इसके लिए पर्याप्‍त कैश फ्लो जरूरी है. तभी लिए गए कर्ज का समय से भुगतान किया जा सकता है.सवाल उठता है कि क्‍या खराब या कम क्रेडिट स्‍कोर के बावजूद आपको लोन मिल सकता है? इसका जवाब है हां. खराब क्रेडिट हिस्‍ट्री होने पर भी लोन मिल सकता है. हालांकि, समझदारी इसी में है कि क्रेडिट स्‍कोर को सुधारा जाए. इससे आपको भविष्‍य में अपनी शर्तों के अनुसार लोन मिल सकेगा. यहां हम ऐसे छह तरीकों के बारे में बता रहे हैं जिनकी मदद से कम स्‍कोर के बावजूद लोन पाया जा सकता है.

ब्याज-पर-ब्याज माफी की सुविधा के बारे में यहां जानिए सब कुछ

प्‍लान के तहत पात्र कर्जदारों के लोन अकाउंट में पेमेंट की रकम डाली जाएगी. यह मोरेटोरियम की अवधि में सरल और चक्रवृद्धि ब्याज के बीच के अंतर के बराबर होगी.

Load More...

हमें फॉलो करें


ईटी ऐप हिंदी में डाउनलोड करें


Copyright © 2020 Bennett, Coleman & Co. Ltd. All rights reserved. For reprint rights: Times Syndication Service

BACK TO TOP